December 12, 2009

प्रिंट मीडिया के विज्ञापनों में नए 'ट्रेन्ड्स'

दुनिया की सबसे महंगी स्पेस है 'एड स्पेस'

दोस्तों, विज्ञापन की दुनिया अथाह है, इसमें आजकल क्वालिटी और क्वांटिटि दोनों ही देखने को मिल रही हैं। भारत में विज्ञापनों के क्षेत्रों में बहुत प्रयोग हो रहे हैं। मैं यहाँ उन्हीं प्रयोगों की चर्चा कर रहा हूँ लेकिन यह चर्चा सिर्फ प्रिंट विज्ञापनों के लिए है, तो पढ़िए और बताइए कि यह आपको कैसा लगा..?? - सचिन
(इस स्टोरी को पढ़ने के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें)

3 comments:

खुशदीप सहगल said...

सचिन भाई,
एड वर्ल्ड की जानकारी देता उम्दा लेख...क्या आप भी एड इंडस्ट्री से जुड़े हैं...अगर हां तो मैं आपसे कुछ सलाह लेना चाहता हूं...मेरा ई-मेल है...
sehgalkd@gmail.com


जय हिंद...

Udan Tashtari said...

रोचक आलेख.

Sachin said...

खुशदीप भाई, मैं एड वर्ल्ड तो नहीं लेकिन पत्रकारिता की दुनिया से जरूर जुड़ा हूँ। हाँ, विज्ञापन मेरे पसंदीदा विषयों में से एक है और मैंने इसे पढ़ाया भी है तथा इस पर मेरी पीएचडी भी है। अगर आप इस विषय में मुझसे कोई बात करना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। मेरा ई-मेल आईडी k.sachin.sharma@gmail.com है। आप कभी भी मुझसे संपर्क कर सकते हैं। -सचिन