April 24, 2009

अब ये कसाब भी छूटेगा..!!!!!!


मुंबई (भाषा), शुक्रवार, 24 अप्रैल 2009( 14:28 IST )
मुंबई आतंकवादी हमलों में गिरफ्तार एकमात्र जिंदा आतंकवादी मोहम्मद अजमल आमिर कसाब की उम्र का पता लगाने के लिए अदालत ने जाँच का आदेश दिया। अदालत ने यह पता लगाने को कहा है कि कसाब नाबालिग अपराधी है या नहीं न्यायाधीश एमएल टाहिलियानी ने विशेष सरकारी वकील उज्ज्वल निकम को 28 अप्रैल को उन गवाहों से पूछताछ करने की अनुमति दी, जिनमें डॉक्टर तथा जेलर शामिल हैं। इन गवाहों से यह पूछा जाएगा कि क्या अपराध को अंजाम देते समय कसाब 18 साल से ऊपर का था और क्या वह नाबालिग अपराधी नहीं है। अदालत ने इसके साथ ही जेल प्रशासन को उसकी उम्र के निर्धारण के लिए कसाब को दंत परीक्षण और ओसिफिकेशन परीक्षण की खातिर भी ले जाने का निर्देश दिया। परीक्षण करने वाले रेडियोलॉजिस्ट तथा दंत चिकित्सक से अदालत के समक्ष 28 अप्रैल से पहले रिपोर्ट पेश करने को भी कहा गया है। आरोपी के वकील अब्बास काजमी ने बताया कि कसाब को भारी सुरक्षा बंदोबस्त के साथ इन परीक्षणों के लिए ले जाया जाएगा। यदि जाँच से यह साबित हो जाता है कि कसाब नाबालिग है, तो मामला बाल अपराध अदालत को सौंप दिया जाएगा। काजमी ने बताया कि बाल अपराध न्याय अधिकरण के तहत अधिकतम सजा तीन साल है।

इन बातों से समझे आप कुछ....????
यह कसाब भी अब छूटने के करीब जा रहा है। हमारे देश की सरकार और यहाँ की व्यवस्था को तो हम कोसते-कोसते थक गए हैं लेकिन फिर भी क्या कुछ नहीं बदलने वाला..?? एक कम उम्र लड़का (हत्यारा) हमारे देश में अपने सरीखे ही कुछ लड़कों के साथ घुस आता है। 200 मासूम लोगों को जान से मार डालता है, 300 लोगों को गंभीर रूप से घायल कर देता है। कई घर उजाड़ देता है। लेकिन हमारे देश का ढच्चर कानून है कि अपनी आदतों से बाज ही नहीं आ रहा। वह उस हत्यारे की उम्र का परीक्षण करवाना चाहते है। पहले ही हम उस अफजल को पाल रहे हैं अब इस कसाब को पालने की भी पूरी तैयारी की जा रही है। क्या हम कभी किसी को ऐसी सजा नहीं दे पाएँगे कि दूसरे उससे सबक सीखें..?? मुझे तो अब लगने लगा है कि भारत पर कोई परमाणु बम भी फैंक दें जिसमें कई लाख लोग मारे जाएँ,
और इत्तेफाक से उस बम को फैंकने वाला हमारी पकड़ में आ जाए तो हमारा कानून उस हत्यारे की भी लल्लो-चप्पो में लगा रहेगा और हम उसको भी सजा नहीं दे पाएँगे। अब तो कहने के लिए नए शब्द भी नहीं मिलते हैं। आखिर में चलते-चलते बस इतना ही एक सच्चा मुसलमान ही मुसलमान का साथ देता
है। कसाब के वकील अब्बास आजमी (जो शक्ल में ही सूअर की तरह दिखता है) ने बता दिया है कि कसाब अगर नाबालिग साबित हो जाता है तो वह अधिकतम 3 साल में छूट जाएगा। धन्य है हमारा देश...धन्य है हमारा कानून... और अन्त में धन्य हैं हम सब कि हमने यहाँ जन्म लिया। शायद यही कारण है कि देश की जनता का हमारी राजनीति और नेताओं से मोहभंग हो गया है। गिरता मतदान प्रतिशत इस बात को दर्शा रहा है। मुझ समेत देश की जनता अब इस सरकार और राजनीति से नफरत
करती है....सिर्फ नफरत..।

आपका ही सचिन..।

4 comments:

मुनीश ( munish ) said...

Kanoon is not DHACHHAR Sachin. Kasab is a foreigner, he is an aggressor and he attacked us so, DHACHHARS are those who are not handing him over to Army . Only army should deal with him .

मुनीश ( munish ) said...

Nice blog! y don't u load pics of ur trips on ur slide show ? im also a travel freak . Do drop in sometime. Aur ye number plate to lagva lo yaar jeep pe. yours? nice one.

Sachin said...

धन्यवाद मुनीष जी, मैंने जो अपने फोटोज लगाए हैं, दरअसल वो स्लाइडशो नहीं हैं लेकिन उनपर लिंक जरूर है। अगर आप करसर उनपर रखकर ओपन इन न्यू टैब या ओपन इन न्यू विंडो करेंगे तो आपको सभी संबंधित फोटो दिखेंगे। मेरे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद। मैं भी आपके पास आता रहूँगा। - सचिन

Bharat Prajapati said...

nice blog and remember our Indian rules are very bad. so you are right that one day he is release from jail. Our government spend many rs. behind him, y not they shoot him... i think we have to shoot out out politician who support to Muslim.